27 March 2019

टिकट न मिलने पर कांग्रेस दफ्तर से 300 कुर्सियां उठा ले गए विधायक!

चुनावी मौसम में अक्सर नेताओं के टिकट न मिलने से नाराज होने और पार्टी छोड़ने की खबरें आती रहती हैं, जी हाँ, आप तो जानते ही होंगे कि जिनको टिकट मिल जाता है वो तो खुश हो जाते हैं, लेकिन जिन्हें टिकट नहीं मिलता वो नाराज होने के साथ-साथ बागी भी हो जाते हैं। कई दफा तो ऐसे बागी नेता पार्टी छोड़ देते हैं या फिर निर्दलीय दावेदारी ठोककर अपनी पार्टी को परेशानी में डाल देते है। लेकिन महाराष्ट्र के औरंगाबाद में कुछ ऐसा हुआ कि लोग हैरान रह गए। यहां के एक कांग्रेस विधायक ने लोकसभा का टिकट न मिलने से नाराज होकर अपनी ही पार्टी के दफ्तर से 300 कुर्सियां उठवा लीं। महाराष्ट्र की सिलोद से विधायक सत्तार ने कहा कि वे पार्टी छोड़ चुके हैं और दावा किया कि कुर्सियों पर उनका हक है।

कांग्रेस की स्थानीय इकाई ने अपने दफ्तर 'गांधी भवन' में गठबंधन सहयोगी एनसीपी के साथ एक बैठक बुलाई थी। मीटिंग से ठीक पहले सत्तार अपने समर्थकों के साथ वहां पहुंचे और पार्टी दफ्तर से सभी कुर्सियां निकलवा लीं। कुर्सियां न होने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक एनसीपी के दफ्तर में हुई। जिले के प्रभावशाली नेता सत्तार को उम्मीद थी कि पार्टी उन्हें औरंगाबाद सीट से लोकसभा का टिकट देगी लेकिन इस सीट पर विधान परिषद सदस्य सुभाष झंबाद को टिकट दिया गया जिससे सत्तार नाराज हो गए।

वहीं, कांग्रेस के उम्मीदवार सुभाष झंबाद ने इस घटना को मामूली बताते हुए कहा, 'सत्तार को जरूरत होगी इसलिए वह कुर्सियां ले गए हैं। हम निराश नहीं हैं। सत्तार अभी भी कांग्रेस में हैं, क्योंकि उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है।' 



More By Jangan