By Aditya jain, 10 April 2019

उफ़ ये गर्मी! इस तपते मौसम में हो सकती हैं बीमारियां, बचने के घरेलू उपाय!

गर्मी धीरे-धीरे बढ़ रही है और उसका प्रकोप भी चरम पर है। हम गर्मी में होने वाली ऐसी ही बीमारियों के बारे में बताएंगे, जिससे आपको सतर्क रहने की जरूरत होती है। 

गर्मी में होने वाले आम रोग– गर्मी में लापरवाही के कारण सरीर में निर्जलीकरण (dehydration), लू लगना, चक्कर आना, घबराहट होना, उलटी-दस्त, sun-burn, घमोरिया जैसी कई diseases हो जाती हैं।

गर्मी के होने से हमे कई तरह की परेशानियों को झेलना पड़ता है तो आईये जानते है गरमी से होने वाले गलत प्रभावों के बारे में जिनपर अमल करके खुद को गर्मी से बचाए

हम कुछ छोटी-छोटी किन्तु महत्त्वपूर्ण बातो का ध्यान रख कर, इन सबसे बचे रह कर, गर्मी का आनंद ले सकते हैं।

खाने-पीने का ध्यान रखें

गर्मी के मौसम में खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। पेट की खराबी और अधिक तैलीय व मसालेदार खाद्य-पदार्थों का सेवन करने से पाचन-क्रिया प्रभावित होती है। इससे अनेक बीमारियां हो सकती हैं। 

गर्मी के दिनों में पुदीना, आम का रस, पन्ना, नीबू जीरा काला नमक का शर्बत भी बहुत फायदेमंद होता है इसलिए हमे इन पेय पर्दाथो को जरुर पीना चाहिए और घर पर बनाकर पीने से इसकी शुद्धता में मिलावट की आशंका न के बराबर होती है।

कपड़ो से रखे ध्यान 

सूती वस्त्र को गर्मी के मौसम के लिए सबसे बढ़िया माना गया है, इसलिए इससे बने वस्त्र अधिक से अधिक पहनें। इसका एक अन्य फायदा यह है कि सूती वस्त्र पसीना सोखने में अधिक बढ़िया होते हैं।

त्वचा की रक्षा करे 

गर्मियों से हमारे त्वचा पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता  है अधिक तेज धुप के कारण हमारे त्वचा काली और झुलस भी जाती है और बहुत सी स्थिति में घमौरियो भी हो जाती है जिसकी वजह से खुजलाने की वजह से हमारे शरीर की त्वचा लाल भी पड़ सकती है सो ऐसी स्थिति से बचने के लिए जब भी घर से बाहर निकले तो निश्चित ही हमारे शरीर के अंग हल्के कपड़े से जरुर ढके हो और लू और धुल से बचने के लिए आखो पर चश्मा भी उपयोग कर सकते है।

तो हमारे द्वारा दी गयी कुछ अच्छी Advice आपको गर्मी से बचाने में सहायक हो सकती है इसलिए आप बताये गये गर्मी से बचने के इन उपायों को जरुर अमल करे और कभी भी आप को गर्मी की वजह से कोई भी परेशानी हो तो अपने  चिकित्सक से सलाह लेना न भूले यह आपके और आपके स्वास्थ्य दोनों के लिए फायदेमंद है। 



More By Jangan